Follow by Email

29 April, 2012

मुद्दों का व्यापार, करे कुर्सी का मुर्दा-

मुर्दा कन्धों पर चढ़ा,  पढ़ें कसीदे आप ।
मंत्री के सत्कार पर, वक्ता वक्ता बाप ।


वक्ता वक्ता बाप, चढ़ा कन्धों पर बैठा ।
मालाओं का ढेर, शीश पर सजे मुरैठा ।


देखा अद्भुत साम्य,  फेल मुर्दे का गुर्दा ।
मुद्दों का व्यापार,  करे कुर्सी का मुर्दा ।।



7 comments:

  1. सच बात है ...
    हम लोग क्या नहीं कर सकते ?
    शुभकामनायें आपको !

    ReplyDelete
  2. बढ़िया है रविकर जी
    देखा अद्भुत साम्य, फेल मुर्दे का गुर्दा ।
    मुद्दों का व्यापार, करे कुर्सी का मुर्दा ।।
    .परीक्षा से पहले तमाम रात जागकर पढने का मतलबhttp://veerubhai1947.blogspot.in/
    रविवार, 29 अप्रैल 2012

    महिलाओं में यौनानद शिखर की और ले जाने वाला G-spot मिला

    http://veerubhai1947.blogspot.in/
    शोध की खिड़की प्रत्यारोपित अंगों का पुनर चक्रण

    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/शुक्रिया .
    आरोग्य की खिड़की

    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/

    ReplyDelete
  3. ये मुर्दा भी उम्दा किस्म के हैं :-)

    ReplyDelete
  4. अच्छा है ..
    :)

    ReplyDelete
  5. बहुत बढ़िया सर!


    सादर

    ReplyDelete