Follow by Email

25 July, 2012

करे उसी सँग रेस, ताकती पांच बीबियाँ-रविकर

ओनोजा की बीबियाँ, नाइजीरिया देश ।
खुबसूरत सबसे युवा, करे उसी सँग रेस ।

करे उसी सँग रेस, ताकती पांच बीबियाँ ।
हुआ नहीं बर्दाश्त, मियाँ को दिया धमकियाँ ।

जबरदस्त फिर रेस,  सांस उखड़े मर जाता ।
रविकर लगती ठेस , हाय रे हाय विधाता ।।


4 comments:

  1. काश ! ऐसी दौड़ में हम भी संग होते !

    ReplyDelete
    Replies
    1. अरे सुबह सुबह ऐसी ख्वाहिश |
      वो तो मर गया -
      पांचवी रेस में ही -

      Delete
  2. हाय रे हाय विधाता!

    ReplyDelete
  3. व्यंग्य विधा के माध्यम, से क्या मारा तीर !
    यथार्थ को प्रस्तुत किया,हे लेखनी-सुवीर !!

    ReplyDelete