Follow by Email

17 August, 2012

फैला है आतंक, मीडिया चित्र उतारत-

वाह मीडिया वाह जी, अजगर सा आतंक ।        
लील रहा है देश को, पर बन्दा  नि:शंक ।
पर बन्दा नि:शंक,  मीडिया फोटो खींचे ।
आह रहा चिल्लाय, अंग है अजगर भींचे |
धीरे धीरे पूर्ण, निगल जाये यह भारत |
फैला है आतंक, मीडिया चित्र उतारत ||

2 comments:

  1. धीरे धीरे पूर्ण, निगल जाये यह भारत |
    फैला है आतंक, मीडिया चित्र उतारत ||

    उन्हें तो अपने चैनल की टी आर पी बढानी है ।

    ReplyDelete
  2. बेह्तरीन अभिव्यक्ति ...!!
    शुभकामनायें.

    ReplyDelete