Follow by Email

13 March, 2013

अजमा ले गर जोर, नहीं कानून टूटता-

अट्ठारह से कम वयस, बल्ले बल्ले बोल ।
सोलह की लेगा पटा, विद्यालय में डोल ।

विद्यालय में डोल, पटा के मजा लूटता ।
अजमा ले गर जोर, नहीं कानून टूटता ।

मजनूं कालेज छोड़, इधर हो रहे इकट्ठा ।
विद्यालय का मोड़, रोज जाता अब पट्ठा ॥


अट्ठारह सोलह लड़े, भूला सतरह साल-

अट्ठारह सोलह लड़े, भूला सतरह साल |
कम्प्रोमाइज करो झट, टालो तर्क बवाल |
टालो तर्क बवाल, आयु सतरह करवाओ  |
करो नहीं  अंधेर,  सख्त कानून बनाओ |
फास्ट ट्रैक में केस, जड़ों पे डालो मठ्ठा |
नाशों पाप समूल, बिठा मत मंत्री भट्ठा ||

5 comments:

  1. बहुत सटीक बहुत प्रासंगिक .शुक्रिया हमें चर्चा मंच में बिठाने के लिए सूचना देने का .

    ReplyDelete
  2. जबरदस्त ... सामयिक ... मोके पे चौका है ये ...

    ReplyDelete