Follow by Email

14 March, 2013

पाकिस्तानी नेशनल, असेम्बली दे घाव-

पाकिस्तानी नेशनल, असेम्बली दे घाव । 
अफजल फांसी पर करे, यह निंदा प्रस्ताव । 

यह निंदा प्रस्ताव, लाश परिजन को जाए । 
 देता दुष्ट सुझाव,  दोगलापन भरमाये । 

गायब सैनिक शीश, काट कर कारस्तानी । 
गिरेबान में झाँक, स्वयं के पाकिस्तानी  ॥


5 comments:

  1. निंदनीय काम किया आज पाकिस्तान ने
    बढिया रचना

    ReplyDelete
  2. इन पाकिस्तानी सूअरों को तो इनके घरों में घुस कर कब्र में सुला देना चाहियें | महा बेशर्म हैं सारे के सारे ऊपर से लेकर नीचे तक |

    ReplyDelete
  3. सुन ले बेटा पाकिस्तान, बाप है तेरा हिंदुस्तान ।
    अपनी औकात में रह शैतान, नहीं तो बना देंगे शमशान।

    ReplyDelete
  4. मर्मस्पर्शी दोहे...

    ReplyDelete
  5. गायब सैनिक शीश, काट कर कारस्तानी ।
    गिरेबान में झाँक, स्वयं के पाकिस्तानी ॥
    satik ...aabhar kavivar !

    ReplyDelete