Follow by Email

06 October, 2013

शीघ्र कायदा सीख, गया "रविकर" धमकाया-कार्टूनिष्ट :-श्री विनय कुल


कार्टूनिष्ट :- ओ बी ओ सदस्य श्री विनय कुल




आया फाँकी मार के, ऑफिस का तो नाम |
जल्दी कर बरतन सफा, रफा दफा कर काम |

रफा दफा कर काम , फटाफट डिनर बनाओ |
मेरे सिर पर बाम, किन्तु पहले मल जाओ |

शीघ्र कायदा सीख, गया "रविकर" धमकाया |
अलकायदा बुलाय, अन्यथा माली आया ||

4 comments:

  1. :)

    नवरात्र की शुभकामनाएं!!!
    सादर!

    ReplyDelete
  2. सुन्दर प्रस्तुति ।
    नवरात्र की शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  3. नव दुर्गा-नव्दिवास एवं विजयादशमी के दशांह शुभ व फलदायी हों !
    अथ कुंडली सटीक व्यंग्य है !

    ReplyDelete
  4. शुभ हो नवरात्रि। ऐसी न बीते ।

    ReplyDelete