Follow by Email

29 March, 2012

महाकाल से विनय, करे आकाँक्षा पूरी-

विशिष्ट आमंत्रण

द्वारा 

आशा-सक्सेना 

 

posted by Asha Saxena at Akanksha 

आप को यह सूचित करते हुए मुझे बहुत हर्ष हो रहा है कि कल शनीवार दिनांक ३१.३.२०१२ को अपरान्ह ४.३० बजे होटल विक्रमादित्य, रिंग रोड चौराहा, नानाखेड़ा उज्जैन में मेरे कविता संग्रह "अनकहा सच " का विमोचन है, इस ...
रविकर की शुभकामनायें 
आकाँक्षा पूरी करे, ईश्वर बड़ा महान । 
होय अनकहा सच सफल, बढे काव्य की शान ।

बढे काव्य की शान, हमारी आशा दीदी
हम भी हैं मेहमान, नेह का प्यासा दीदी ।

निपटाने कुछ काम, बड़ा एक्जाम जरुरी ।
महाकाल से विनय, करे आकाँक्षा पूरी ।।

7 comments:

  1. हार्दिक बधाई और शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  2. हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ!!!

    ReplyDelete
  3. सादर बधाई और शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  4. बधाइयाँ...........

    और ढेरों शुभकामनाएं....

    सादर.

    ReplyDelete
  5. badhaiyan bahut bahut.aabhar bhi bahut bahut.

    ReplyDelete
  6. आदरणीय आशा सक्सेना जी
    इस अवसर पर सुगना फाऊंडेशन मेघलासिया जोधपुर , आज का आगरा और "एक ब्लॉग सबका" की तरफ़ से आदरणीय आशा सक्सेना जी को हार्दिक बधाई ! बहुत बहुत बधाई ! बारम्बार बधाई ! मन से बधाई ! अंतर्मन से बधाई ! दिल से बधाई ! तहेदिल से बधाई ! और आपको सफलता की चरम ऊँचाइयों पर ले जाएँ.. ऐसी कामना...
    ... सवाई सिंह रापुरोहित आगरा

    ReplyDelete
  7. आदरणीय आशा सक्सेना जी कोे हार्दिक बधाई ! बहुत बहुत बधाई ! बारम्बार बधाई ! मन से बधाई ! अंतर्मन से बधाई ! दिल से बधाई ! तहेदिल से बधाई ! और आपको सफलता की चरम ऊँचाइयों पर ले जाएँ.. ऐसी कामना... सवाई सिंह रापुरोहित आगरा

    ReplyDelete