Follow by Email

06 March, 2013

क्यूँ नेहरू की रेस, मिटाए बबलू देता-


आमोदी दादी दुखी, जा दोजख में देश |
पोते को लेता फँसा, पी एम् पद की रेस |

पी एम् पद की रेस, मरे क्या सारे नेता  |
क्यूँ नेहरू की रेस, मिटाए बबलू देता  |

रे पोते नादान, खिलाया तुझको गोदी |
झटपट करले व्याह, छोड़ मोदी आमोदी |  

7 comments:

  1. ha-ha-ha-ha... बहुत बढ़िया सलाह दी सर जी ! चाटुकार , फरेबी और गद्दार लोग भी दुखी हैं कि इसने शादी नहीं की तो आगे चलकर इनकी हराम का नमक खाई औलादे किसके काँधे पर बन्दूक रखकर अपना उल्लू सीधा करेंगे !

    ReplyDelete
  2. कोंग्रेस की पांसा फैंक चाल पे बढ़िया तंज .देखिये इनकी दोगलाई आज का टाइम्स आफ इंडिया -पृष्ठ १४ संस्करण मुंबई -
    AICC :RSHUL WILL LEAD Cong in next polls(TOI,MUMBAI,MARCH 7 ,2013)

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर उपदेश,इसी बात पर एक चुटकला यद् आ गया...


    राहुल गांधी ? मोम, आपकी वजह से मेरी शादी नहीं हो पा रही.

    सोनिया गांधी ? क्यूं बेटा?

    राहुल गांधी ? हर तरफ तो लिखा हैं कि सोनिया को बहुमत (बहू मत) दो...

    ReplyDelete
  4. बेहतरीन, हूँ सलाह तो नेक है ,मगर कही कुछ छिपा रहस्य भी हो सकता है ,

    ReplyDelete
  5. :-)))...
    राजनीति के खेल निराले....
    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  6. वाह वाह जौरदार रविकर भाई । रोजेन्द्र कुमार जी का चुटकुला सोनिया को बहु मत दो भी चुटीला है ।

    ReplyDelete