Follow by Email

08 March, 2013

हिला हिला सा हिन्द है, हिले हिले लिक्खाड़ -

हिला हिला सा हिन्द है, हिले हिले लिक्खाड़ |
भांजे महिला दिवस पर, देते भूत पछाड़ |

देते भूत पछाड़, दहाड़े भारत वंशी |
भांजे भांजी मार, चाल चलते हैं कंसी |

बड़े ढपोरी शंख, दिखाते ख़्वाब रुपहला |  
महिला नहिं महफूज, दिवस बेमकसद महिला ||  

नारीवादी किन्तु, विष्णु पर हैं भन्नाए-



5 comments:

  1. भांजे भांजी मार, चाल चलते हैं कंसी |sahi bat....

    ReplyDelete
  2. मौजू अहिला दिवस पर .

    ReplyDelete
  3. प्रासंगिक व्यंग्य विनोद महिला दिवस पर .

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!

    महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ !
    सादर

    आज की मेरी नई रचना आपके विचारो के इंतजार में
    अर्ज सुनिये

    ReplyDelete