Follow by Email

15 February, 2016

महिला डाक्टर खोज, रहा कब से रो रो के


रोके अपनी बहन को, दकियानूसी भाय |
ऊँची शिक्षा के लिए, शहर नहीं ले जाय |

शहर नहीं ले जाय, भाय खुद जाय कमाया |
घर भी लिया बसाय, बाप बनने को आया |

होय प्रसव का दर्द, मर्द-डाक्टर को टोके |
महिला डाक्टर खोज, रहा कब से रो रो के ||

3 comments:

  1. मानसिकता कैसे बदले ..

    ReplyDelete
  2. बहन बेटी को जब तक नही पढायेंगे, तब लेडी डॉक्टर और नर्स कैसे पायेंगे।

    कमाल है लोग अभी भी यह सोचते हैं।

    ReplyDelete