Follow by Email

28 February, 2016

देना हे भगवान, उसे भी बोदा लड़का-

बोदा लड़का घूमता, छुटका किन्तु सयान।
गाली खाए नित्य यह, बनता वह विद्वान ।

बनता वह विद्वान, विलायत पढ़ने जाता। 
व्याही गोरी मेम, वहीँ पर नाम कमाता |

रविकर अब असहाय, करे सेवा यह बड़का ।
दे देना प्रभु एक, उसे भी बोदा लड़का ||

दोहा 
अंकुश लगता पाप पर, चले पुण्य से राज्य |

अहंकार पर पुण्य का, सदा सर्वदा त्याज्य ||

2 comments: